Connect with us
https://qnewsindia.com/wp-content/uploads/2023/07/en.png.webp

शिक्षा

डीएवी पब्लिक स्कूल में हर्षोल्लास के मनाया गया 77 वां स्वतंत्रता दिवस

Avatar photo

Published

on

Spread the love

मेरठ। डीजेडीएवी सैंटनरी पब्लिक स्कूल शास्त्री नगर में 77 वे स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन पूर्ण हर्षोल्लास एवं धूमधाम से किया गया।  मुख्य अतिथि राज्यसभा सांसद एवं उपसचिव लक्ष्मीकांत वाजपेयी  का स्वागत किया गया। फिर राष्ट्रगान गाकर तिरंगा फहराया गया। एन सी सी के जांबाज सैनिकों ने मुख्य अतिथि को गार्ड ऑफ ऑनर दिया तथा कदम से कदम ताल कर भावी देश प्रहरियों  का आगाज किया । रीजनल ऑफिसर डॉ अल्पना शर्मा ने मुख्य अतिथि डॉक्टर वाजपेयी प्लांटर देकर स्वागत किया।

डॉक्टर अल्पना शर्मा एवं कार्यवाहक प्रधानाचार्य अपर्णा जैन ने स्मृति चिन्ह एवं शॉल भेंट कर मुख्य अतिथि का आभार व्यक्त किया । सीनियर विंग की ओर से  सांस्कृतिक कार्यक्रम वंदे मातरम एवं देश रंगीला गीत पर सामूहिक नृत्य कर देशभक्ति की भावना को उजागर किया। मुख्य अतिथि द्वारा पौधारोपण कर इस धरा को हरा भरा रखने का संकल्प लिया।  विद्यालय की हेड गर्ल सोनाली शर्मा द्वारा देश के बलिदानों को समर्पित भाषण देकर सभी में ओज़ का संचार किया ।मिडल विंग के छात्रों द्वारा देशभक्ति गीत ए वतन मेरे आजाद, यही पैदा हुआ गाकर देश के प्रति अपनी भक्ति प्रस्तुत की।  भगत सिंह बन अंश त्यागी ने कविता पाठ किया । प्राइमरी विंग की ओर से ‘ यह हमारा देश’  गीत पर नृत्य कर सबको मंत्र मुक्त कर दिया ।विद्यालय की कार्यवाहक प्रधानाचार्य अपर्णा जैन ने मुख्य अतिथि का धन्यवाद देकर सभी को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं दी।

शिक्षा

रघुनाथ गर्ल्स पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज में 34 दिन का पत्रकारिता प्रशिक्षण कोर्स

Avatar photo

Published

on

Spread the love

मेरठ। रघुनाथ गर्ल्स पोस्ट ग्रेजुएट कॉलेज, मेरठ के हिंदी विभाग द्वारा 34 घंटे का पत्रकारिता प्रशिक्षण कोर्स ( 5 दिसंबर से 19 दिसम्बर) आरंभ किया गया। पत्रकारिता प्रशिक्षण कोर्स का उद्घाटन महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो. निवेदिता कुमारी ने पारंपरिक पद्धति के अनुसार दीप प्रज्ज्वलन एवं मां सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण करके किया। तत्पश्चात ग्रेस कोचिंग सेंटर की निर्देशिका मुख्य अतिथि वक्ता डॉ. राखी कांबोज का स्वागत प्रो. कंचन पुरी ने पौधा देकर किया। इस अवसर पर  प्राचार्या प्रो. निवेदिता कुमारी ने अपने सन्देश में कहा कि पत्रकारिता का कोर्स करने के बाद आप किसी अखबार, टीवी, रेडियो, मैगजीन, वेबसाइट आदि के लिए काम कर सकते हैं । पत्रकारिता के लिए लिखने की कला में निपुण होना बेहद जरूरी है, क्योंकि अगर आप मीडिया के किसी भी संस्थान में जाएंगे तो वहां आपकी लेखन शैली को देखा जाएगा। इसलिए लेखन शैली सुधारने के लिए आप निरंतर प्रयास करते रहें। पत्रकारिता को अपना करियर बनाकर आप प्रकृति, अपने देश और दुनिया भर की राष्ट्रीयताओं के बारे में अधिक सीखते हैं। यह कोर्स आपके जीवन को एक दिशा देने में कामयाब हो इसी आशा और विश्वास के साथ प्राचार्या जी ने हिंदी विभाग की सभी शिक्षिकाओं को शुभकामनाएं प्रेषित की। मुख्य अतिथि वक्ता डॉ. राखी कांबोज ने 03 घंटे के अपने व्याख्यान के दौरान बताया कि पत्रकारिता उन नौकरियों में से एक है जो कभी उबाऊ नहीं हो सकती।  उन्होंने पत्रकारिता के उद्भव और विकास की परंपरा को बताते हुए विश्व पत्रकारिता, भारतीय पत्रकारिता के साथ-साथ हिंदी पत्रकारिता पर विस्तृत रूप से प्रकाश डाला। उन्होंने बताया कि पत्रकारिता की दृष्टि से किसी भी घटना, समस्या व विचार को समाचार का रूप धारण करने के लिए उसमें अग्रांकित तत्वों का होना आवश्यक होता है – संघर्ष , प्रभाव जानकारियां, नवीनता, निकटता, अनोखापन इत्यादि। सर्टिफिकेट कोर्स में महाविद्यालय की छात्राओं के साथ- साथ दूसरे महाविद्यालय के छात्र छात्राएं भी उपस्थित रहें। कोर्स की संयोजक प्रो. सुनीता तथा सह-संयोजक स्वाती मिश्रा के मार्गदर्शन में इस पत्रकारिता प्रशिक्षण कोर्स का सफल आयोजन महाविद्यालय के कक्ष सं.‌ 01  में किया जा रहा है। इस कोर्स को सफल बनाने में हिंदी विभाग की शिक्षिकाओं प्रो. कंचन पुरी, पूजा सरोज, डॉ. सुजाता चावला, राशि शर्मा का विशेष सहयोग रहा।

Continue Reading

शिक्षा

ड्रोन के माध्यम से छात्र छात्राओं ने जाना उर्वरक के प्रयोग का प्रदर्शन

Avatar photo

Published

on

Spread the love

शोभित विश्वविद्यालय मेरठ स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर साइंसेज एंड टेक्नोलॉजी द्वारा 10 दिवसीय वर्कशॉप ऑन ड्रोन टेक्नोलॉजी इन एग्रीकल्चर मे आज प्रशिक्षण कार्यक्रम के दुसरे दिन केंद्रीय आलू संस्थान अनुसंधान केंद्र के सहयोग से आलू के खेत में ड्रोन के अनुप्रयोग पर एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया । उन्होंने आलू के अनुसंधान क्षेत्र में ड्रोन की मदद से उर्वरक के प्रयोग का प्रदर्शन किया। प्रधान वैज्ञानिक डॉ. एस के लूथरा ने आलू की विभिन्न किस्मों के साथ-साथ जारी की गई किस्मों के बारे में बताया। डॉ. अनुज भटनागर, प्रमुख वैज्ञानिक कीटविज्ञान, ने कार्यक्रम की विस्तृत जानकारी दी। डॉ राजेश कुमार सिंह जी, केंद्र अध्यक्ष द्वारा सभी को संबोधित किया गया उनमें उन्होंने किसान नमो ड्रोन दीदी योजना के बारे में और इसके फायदे बताए। मुख्य अतिथि डॉ एन सी उपाध्याय, पूर्व प्रधान वैज्ञानिक, सीपीआरआई, मोदीपुरम ने कृषि उत्पादकता के लिए मिट्टी और पानी के महत्व के बारे में बताया। ड्रोन टेक्नोलॉजी इन एग्रीकल्चर के ऊपर ट्रेनिंग प्रोग्राम चल रही है जिसमें सभी ट्रेनीज को ड्रोन के इस्तेमाल करने के तरीके बारे में उसके मार्केटिंग के बारे में और मैनेजमेंट के बारे में जानकारी दी जा रही है। इसी श्रृंखला में सभी छात्र-छात्राओं को ड्रोन के मूलभूत उद्देश्यों को बढ़ावा देने की कड़ी में विद्यार्थियों को बताया। इस एक दिवसीय वर्कशॉप को सफल बनाने में प्रोफेसर डॉ सहदेव सिंह, डॉ मनोज कुमार, डॉ सोनम आर्य, डॉ अंजली तोमर, आशीष कुमार त्यागी और वाणी भाटिया का विशेष योगदान रहा।

Continue Reading

शिक्षा

आईआईएमटी इंजीनियरिंग कॉलेज के एमबीए विभाग में फ्रेशर पार्टी 2023 का आयोजन

Avatar photo

Published

on

Spread the love

मेरठ। आईआईएमटी इंजीनियरिंग कॉलेज में ऐकेटीयू से सम्बद्ध एमबीए पाठ्यक्रम में नवप्रवेशित विद्यार्थियों के लिए ‘रूबरू 2023 फ्रेशर पार्टी’ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ डॉ. विख्यात सिंघल विभागाध्यक्ष एमबीए, डॉ. सुगन्धा श्रोत्रेया निदेशक रेडियो, डॉ. संदीप सेंगर, प्रो. अली अकबर, प्रो. राजीव शर्मा ने दीप प्रज्जवलित करके किया। कार्यक्रम का शुभारम्भ अर्चिता रॉय द्वारो गणेश वन्दना प्रस्तुत करने के पश्चात रंगारंग कार्यक्रम का आगाज़ हुआ।
कार्यक्रम की अग्रिम श्रंखला में शानदार सांस्कृतिक कार्यक्रमों और छात्रों के प्रदर्शन ने सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। कार्यक्रम में मिस्टर फ्रेशर कुशाग्र शर्मा और मिस फ्रेशर अनिका धामा को चुना गया। मिस्टर चार्मिंग तुषार विष्ठ एवं मिस चार्मिंग राशि भारद्वाज बने। मिस्टर टैलेंट अमन कुमार गुप्ता व मिस टेलेंट ऐश्वर्या को चुना गया। डा. साक्षी शर्मा ने आधिकारिक धन्यवाद दिया। कार्यक्रम को सफल बनाने में मैनेजमेंट विभाग से शिक्षक डॉ. संगीत वशिष्ठ, डॉ. साक्षी शर्मा, डॉ. सुनीता कुमारी गिरी, प्रो. सहदेव सिंह तोमर, प्रो. चन्द्रपाल सिंह, प्रो. सायमा परवीन व छात्र-छात्राओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा।

Continue Reading

Trending

Updates